जोखिम मेंकलाकार (एआर)’ 

– एक वैश्ववक संस्थान: जोखिम में रहनेवाले कलाकारों के ललए 

यह आपके ललए है! 

आपके अत्यावश्यक (अर्जेंट) आवेदन को ककसी भी समय स्वीकारने को हम तत्पर  हैं।  

जोखिम में कलाकार (एआर)रेलसडेंसी काययक्रम के ललए आप यहााँ आवेदन कर  सकते हैं- artistsatrisk.org/apply 

जोखिम मेंकलाकार (एआर)

‘जोखिम में कलाकार (एआर)’ मानव अधिकारों और कला के बीच सूत्र जोड़नेवाला एक नेटवकय संस्थान है। ‘एआर’ ‘पीड़ड़त कलाकारों के कामों को एक स्वरूप देने’, ‘उनके मूल देश में/से सुरक्षित स्थान देन’े, ‘एआर- सुरक्षित आश्रय’ में उनकी  मेजबानी करने और ‘एआर पवीललयन जैसेक्यूरेटटगं संबंिी प्रोजक्े ट’ देने के ललए  प्रततबद्ि है।  

‘जोखिम में कलाकार (एआर)’ के ललए सावजय तनक सूचना 

र्जोखिम में रह रहे कलाकारों के ललए यह हमारी एक पहल है। आप ककसी भी  समय आवेदन कर सकते हैं। अलभव्यक्तत की स्वतंत्रता की बन 

ुनयादी धार पर 

वार होने और उन्हें झेलनेवाले, उनके दमन, उत्पीड़न या उनकी बन 

ुनयादी 

स्वतंत्रताओं के ललए रार्जनीनत से प्रेररत ितरों के गंभीर अंर्जाम झेल रहे  कलाकार यहां आवेदन कर सकते हैं- artistsatrisk.org/apply/ । यदद आप गंभीर ितरा महसूस कर रहे हैं, तो कृपया आवेदन करें। यह रेलसडेंसी उन पात्र  उम्मीदवारों के ललए है, क्र्जन्हें आमतौर पर ननरंतर उत्पीड़न, ननवास की अव्यवस्था, अन्यायपर् 

ूण कारावास, यातना या लमल रही मौत की धमककयों का 

सामना करना पड़ता है। 

‘जोखिम मेंकलाकार (एआर)’ अपने एआर- ननवालसयों का एक ‘सम्माननत कला- पेशेवर’ के रूप में स्वागत करता है। एआर- रेर्जीडेंसी में आए/ आई  कलाकार अपने देश में झेल रही लगातार धमककयों के बर-अतस यहााँ अपने 

 

ललए एक िुली सांस पा सकत/ेसकती हैं या किर वे यहााँ के कायणक्रमों को अपने  आगे के काम की योर्जना के ललए ‘शुरुआती कदम’ मानकर आगे बढ़  सकते/सकती हैं।  

एआर- रेलसडेंट्स का चयन कलाकारों से प्राप्त आवेदन सामग्रियों की क्स्थनत  और उनकी पष्ृठभूलम के आधार पर ककया र्जाएगा, क्र्जसकी र्जांच संबक्न्धत क्षेत्रों के स्थानीय और अंतराणष्रीय स्तर के ववशेषज्ञों की मदद से की र्जाएगी।  मेर्जबानी के ललए एआर-रेर्जीडेंसी भी एआर-सलाहकार सलमनतयों के साथ परामशणदाता के रूप में भूलमका ननभाएगी।  

एआर में अवसर/ संभावनाएं- 

‘र्जोखिम में कलाकार (एआर)’ को वैक्श्वक अवसर/ संभावनाओंवाले एक संस्थान  के रूप में बनाया गया हैऔर यह तेर्जी से आगे बढ़ रहा है। हेललसंकी में अपने स्थावपत रेर्जीडेंसी कायणक्रमों को और आगे बढ़ाते हए हए इसने अन्य सोलह देशों 

के उन्नीस स्थानों में ‘एआर- सुरक्षित आश्रय’ ववकलसत ककया है। यद्यवप, ‘र्जोखिम में कलाकार (एआर)’ दृश्य कला के ललए समवपणत अपनी तरह की पहली रेलसडेंसी रही है, तथावप, इसने शुरू से ही कला के अलावा किल्म, रंगमंच और नत्ृय र्जैसे अन्य क्षेत्रों के कलाकारों को भी स्थान ददया है। तयूरेटोररयल समथणन के साथ ननकटता से र्जुड़े रहकर एक अंतराणष्रीय रेलसडेंसी नेटवकण के रूप में ‘एआर’ का स्वरूप अनोिा बना हआ है। भागीदारों और अन्य नेटवकों के साथ समन्वय करते हए यह ववश्व भर में र्जोखिम में रह रहे कलाकारों के ललए  ‘एआर- सरुक्षक्षत आश्रय’ के क्षैनतर्ज नेटवकण का ननमाणर् कर रहा है। 

जोखिम मेंकलाकार (एआर) एक Perpetuum Mobilεzation (पीएम) यानी  तनरंतर चलनेवाली एक प्रक्रक्रया है।  

माररता मुतकोनेन और इवोर स्तोदोलोस्की– (वैकक्ल्पक क्रम से) द्वारा सह स्थापपत और तनदेलशत ‘परपेटम मोबाइल (पीएम)’ कला, अभ्यास और शोि को एक िरातल पर लानेवाला क्यूरेटोररयल मंच है। ‘परपेटम मोबाइल (पीएम)’ यानी ‘तनरंतर चलनेवाली प्रक्रक्रया’ लंबे समय तक चलनेवाले पवषयों से संबश्धित 

 

पररयोजनाओं को पवकलसत करता है, श्जसमें पवपवि सम्मेलन, काययशालाएं,  रेलसडेंसी, प्रदशयतनयां, पवलभधन त्योहार, सावयजतनक और पथ- कलाएं, प्रकाशन,  क्रिल्में और अधय नए- नए प्रारूप शालमल हैं। पवषय- आिाररत प्रोजेक्ट में ‘री- अलाइंड प्रोजेक्ट’, ‘परपेचुअल रोमानी पवेललयन’, ‘पेरेस्त्रोइका प्रोजेक्ट’, ‘आर्टयस असेंबली’, ‘आटटयस्ट एट ररस्क (एआर)’, ‘परपेर्टयूम लैब्स’, ‘चीन-क्रिनलैंड’,  ‘प्लुररवलसटय ी’, ‘मोबाइल टॉक्स’ और ‘इकोलॉश्जस्र्टस एट ररस्क (ईआर)’ शालमल हैं। ‘परपेटम मोबाइल (पीएम)’ नेनॉड़डयक, यूरोपपयन और अंतरायष्ट्रीय िेत्र मेंबड़े पैमाने पर काम क्रकया है। 

सह-संस्थापक तनदेशक

माररता मुतकोनेन और इवोर स्तोदोलोस्की– (वैकक्ल्पक क्रम से) 

जोखिम में कलाकार (एआर)’ रेलसडेंसी के आवेदक कृपया आवेदन-पष्ृठ पहले भलीभााँनत यहााँ पढ़ लें: https://artistsatrisk.org/apply/?lang=en 

आवेदन करने के ललए कृपया िॉमण को परूा भरें और र्जमा (सबलमट) करें अथवा  आवेदन पष्ृठ पर र्जाएाँ, र्जहां सबकुछ ववस्तार से ददया हआ है।  

लसतयोर चैट:Wire (@ar). 

ई-मेल: applications@artistsatrisk.org 

कृपया ककसी भी एआर स्टाि से उनके ननर्जी सोशल मीडडया प्रोिाइल पर  संपकण न करें।

SHARE:
Tweet This Share on Facebook Share on Google+ Share on Diaspora